चेन्नई के एमए चिदंबरम क्रिकेट स्टेडियम में मंगलवार को खेले गए मुकाबले में मेजबान चेन्नई सुपर किंग्स ने कोलकाता नुघ्त राइडर्स को एकतरफा मुकाबले में हराया. मैच में चेन्नई के गेंदबाज दीपक चाहर, हरभजन सिंह और इमरान ताहिर ने बेहद दमदार गेंदबाजी की और अपनी टीम को जीत दिलाई.

धोनी ने टॉस जीतकर फील्डिंग चुनी

Image result for dhoni and karthik toss ipl 2019

मैच में चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी ने टॉस जीतकर चेन्नई की स्पिन मददगार विकेट पर पहले फील्डिंग का फैसला किया. जिसके बाद चेन्नई के गेंदबाज कोलकाता के बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे और 20 ओवरों के बाद केकेआर  टीम सिर्फ 108/9 का स्कोर ही बना पायी. इस दौरान आंद्रे रसेल ने 44 गेंदों पर नाबाद 50 रनों की पारी खेली. चेन्नई की ओर से दीपक चाहर ने 3 जबकि हरभजन सिंह और इमरान ताहिर ने 2-2 विकेट लिये.

इसके जवाब में, चेन्नई की ओर से सलामी बल्लेबाजी फाफ डू प्लेसिस ने 45 गेंदों पर नाबाद 43 और अम्बाती रायडू ने 21 रनों की पारी खेलकर अपनी टीम को 17.2 ओवरों में सिर्फ 3 विकेट गवांकर मैच जीता दिया.

दीपक चाहर बने मैन ऑफ द मैच

Advertisement


मैच में अपने 4 ओवरों में सिर्फ 20 रन देकर क्रिस लीन, रॉबिन उथप्पा और नितीश राणा की विकेट लेने वाले दीपक चाहर को मैन ऑफ द मैच चुना गया. अवार्ड लेने के दौरान चाहर ने बताया कि आईपीएल 12 शुरू होने पहले उन्होंने डेथ ओवरों में गेंदबाजी के लिये काफी अभ्यास किया था. इसके आलावा उन्होंने कहा कि वह ड्रेसिंग रूम में एमएस धोनी के साथ काफी समय बिताते है, जिससे उन्हें काफी कुछ सीखना को मिला हैं.

चाहर ने कहा, “मुझे लगता है कि मुझे मालूम था कि हम चेन्नई में काफी सारे मैच खेलने जा रहे हैं. इसलिए, मैंने अपनी धीमी गेंद और यॉर्कर पर काफी मेहनत की. मैं टीटी खेलते समय एमएस के साथ ड्रेसिंग रूम में बहुत समय बिताता हूं और मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला है. ड्वेन ब्रावो के चोटिल होने से मुझे डेथ ओवर में गेंदबाजी करने का मौका मिला है.”

Advertisement
Advertisement