दिल्ली कैपिटल्स आईपीएल इतिहास की सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली टीमों में से एक हैं. दिल्ली एकलौती ऐसी टीम है जो सभी आईपीएल सीजन खेलने के बाद भी अभी तक आईपीएल फाइनल तक नहीं खेली हैं. यहाँ तक कि आईपीएल 2012 के बाद से दिल्ली की टीम प्लेऑफ में जगह तक नहीं बनायीं हैं. मौजूदा सीजन में नाम और कप्तान बदलने के साथ दिल्ली से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद जताई जा रही हैं.

दिल्ली कैपिटल्स ने आईपीएल 12 में 4 मैचों में से 2 मैच जीते हैं. हालाँकि इस दौरान उन्हें हार हुए दोनों मैचों में करीबी कार मिली हैं, जिसके कारण इस बार दिल्ली से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही हैं. आज इस लेख में हम 3 ऐसे खिलाड़ियों की बात करेंगे, जिन्हें अगर दिल्ली रिटेन करती तो वे आईपीएल इतिहास की सबसे मजबूत टीम बन सकती थी. देखे कौन है 3 खिलाड़ी:-

डेविड वॉर्नर

Image result for david warner ipl delhi daredevils

तूफानी सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने वर्ष 2009 दिल्ली की टीम की ओर से खेलते हुए चेन्नई सुपर किंग्स के विरुद्ध आईपीएल डेब्यू किया था. जिसके बाद वह 2012 तक दिल्ली टीम से जुड़े रहे लेकिन उसके बाद उन्हें रिटेन नहीं किया गया.

दिल्ली छोड़ने के बाद डेविड वॉर्नर को सनराइजर्स हैदराबाद टीम ने अपनी टीम में शामिल किया, जिसके बाद से उन्होंने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा हैं. वॉर्नर ने अभी तक आईपीएल करियर में 117 मैचों में 42.25 की औसत से 4268 रन बनायें हैं.

एबी डिविलियर्स

Image result for ab de  ipl delhi daredevils

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व महान बल्लेबाज एबी डिविलियर्स आईपीएल के उद्घाटन सीजन में दिल्ली टीम का हिस्सा थे. करियर शुरूआती सीजन डिविलियर्स दिल्ली के लिये खेले थे लेकिन आईपीएल 2011 से पहले उन्हें टीम से बाहर कर दिया है और वह रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम में चले गए.

आरसीबी से जुड़ने के बाद से दिल्ली आज भी उन्हें रिटेन न करने के लिये पछता रही होगी. डिविलियर्स ने आईपीएल में 133 पारियों में 39.28 की औसत से 4046 रन बनायें हैं.

आंद्रे रसेल

Advertisement
Image result for russell  ipl delhi daredevils

वेस्टइंडीज के तूफानी ऑलराउंडर आंद्रे रसेल वर्तमान में आईपीएल के सबसे वैल्यूबल क्रिकेटर हैं. रसेल ने वर्ष 2012 में दिल्ली की ओर से खेलते हुए डेक्कन चार्जर्स के विरुद्ध आईपीएल डेब्यू किया था. दिल्ली में 3 सीजन तक रहने के बाद भी रसेल को दिल्ली ने ज्यादा मौके नहीं दिए.

दिल्ली के 3 सीजन में रसेल को सिर्फ 9 मैचों में मौका दिया और आईपीएल 2015 की नीलामी से पहले उन्हें टीम से बाहर कर दिया. जिसके बाद आईपीएल 2015 में वह कोलकाता नाईट राइडर्स टीम में शामिल हुए और आज वह आईपीएल के सबसे सफल खिलाड़ियों में शामिल हैं.   


Advertisement
Advertisement