ऑस्ट्रेलिया सीरीज पहले मध्यक्रम के बल्लेबाज अंबाती रायडू की वर्ल्डकप टीम में जगह पक्की मानी जा रही थी लेकिन कप्तान कोहली ने उन्हें मोहाली वनडे की प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया. जिसके बाद फाइनल वनडे के लिए भी कप्तान ने अंबाती रायडू से ज्यादा विजय शंकर पर भरोसा जताया और उन्हें नियमित बल्लेबाज टीम में मौका दिया.

गंभीर ने लगाया प्लेइंग XI में पक्षपात का आरोप

Image result for gambhir vs kohli in odi


भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने भारतीय कप्तान विराट कोहली पर पक्षपात का आरोप लगाया हैं. गंभीर ने कहा कि इस तरह सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को आप 19 मौके देते है जबकि दूसरी तरह अंबाती रायडू को सिर्फ 3 मौके देकर टीम से बाहर कर दिया जाता हैं.

गौतम ने उठाया गंभीर मुद्दा

Image result for dhawan and rayudu


गौतम गंभीर ने दिल्ली वनडे में भारत की हार के बाद स्टार स्पोर्ट्स के शो के दौरान कप्तान विराट कोहली पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा, “अंबाती रायडू ने अभी तक कुछ भी गलत नहीं किया है. मैं काफी हैरान हूँ, कि आखिरी 2 वनडे में प्लेइंग XI का हिस्सा नहीं बनाया गया. अंबाती ने न्यूजीलैंड के विरुद्ध रन बनाए थे, वहां वह सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे. वेस्टइंडीज के विरुद्ध सीरीज में भी उन्होंने रन बनाए थे, हालाँकि यहां केवल 2-3 मैच खराब हुए, तो उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया. मेरा मानना है, कि कप्तान का यह फैसला पूरी तरह से गलत है.”

आगे गंभीर ने कहा, “आप एक तरफ शिखर धवन को लगातार फ्लॉप होने के बावजूद 19 पारियां देते हैं. वहीं दूसरी ओर अंबाती रायडू को सिर्फ 3 मौके देते हैं. यह कतई सही नहीं है.”

कप्तान का निष्पक्ष होना जरुरी

Advertisement
Image result for gautam gambhir interview


गंभीर ने आगे कहा, “जब आप राष्ट्रीय टीम एक कप्तान होते हैं, तो आपको प्रत्येक खिलाड़ी के लिए हर तरह से निष्पक्ष रहना होता है. अगर आपको लगता है कि धवन को वर्ल्डकप से पहले मौके की आवश्यकता है, क्योंकि वह आपके लिए एक अहम खिलाड़ी हैं, तो रायडू के लिए भी यही मापदंड होना चाहिए. उन्हें इस सीरीज पर लगातार नंबर-4 पर खिलाना चाहिए था.”

Advertisement
Advertisement