भारत के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत इन दिनों वर्ल्डकप 2019 के लिए अपना टिकेट पक्का की जद्दोजहद में लगे हुए हैं. क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वाले ऋषभ पंत भी तक सिमित ओवर क्रिकेट में प्रतिभा के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं. जिस कारण अभी भी वर्ल्डकप 2019 के लिए इंग्लैंड जाने वाली टीम में ऋषभ पन्त का नाम पक्का नहीं हो पाया हैं.

Image result for rishabh



चयन समिति ने ऋषभ पंत को अभी तक वर्ल्डकप का टिकेट नहीं दिया हैं हालाँकि बीसीसीआई ने उन्हें एक बहुत बड़ा तोफहा दिया हैं. जिसके बाद वह एक ही वर्ष में एमएस धोनी के बराबर पहुँच गए हैं. अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में अच्छे प्रदर्शन के बाद बीसीसीआई ने ऋषभ पंत को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के ग्रेड ए में शामिल कर दिया हैं. जिसके बाद उन्हें अब सालाना 5 करोड़ की मोटी फीस दी जाएगी.

Image result for cricketer dhawan अपसेट


ऋषभ पंत के प्रोमोशन के आलावा बीसीसीआई के टीम इंडिया के आउट ऑफ़ फॉर्म सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को ग्रेड ए+ श्रेणी से निकालकर ग्रेड ए में शामिल कर दिया हैं. बीसीसीआई ने इस बार अपने 25 खिलाड़ियों को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट दिया हैं. इसके आलावा बीसीसीआई ने  मुरली विजय, अक्षर पटेल, करुण नायर, जंयत यादव और पार्थिव पटेल को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया हैं.

बीसीसीआई द्वारा सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट हासिल करने वाली खिलाडियों की सूची

ग्रेड ए + (7 करोड़ सालाना फीस)


विराट कोहली, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह

Advertisement
Image result for कोहली कोहली रोहित बुमराह



ग्रेड ए (5 करोड़ सालाना फीस)

रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, भुवनेश्वर, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, एसमएस धोनी, शिखर धवन, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, कुलदीप यादव, ऋषभ पंत

ग्रेड बी (3 करोड़ सालाना फीस)

लोकेश राहुल, उमेश यादव, युजवेंद्र चहल और हार्दिक पांड्या

ग्रेड सी (1 करोड़ सालाना फीस)

केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, अंबाती रायडू, मनीष पांडे, हनुमा विहारी, खलील अहमद और ऋद्धिमान साहा




Advertisement
Advertisement