विराट कोहली की कप्तानी में भारत को विदेशी धरती पर अभी तक शानदार जीत मिली है।अब कोहली का मानना है कि भारत के लिए इंग्लैंड दौरा काफी कठिन होने वाला है।

A post shared by Wriddhiman Saha (@wriddhi) on

Advertisement

भारतीय क्रिकेट टीम पहला टेस्ट मुकाबला 1 अगस्त से टेस्ट क्रिकेट खेलेगी।लेकिन इससे पहले भारतीय टीम अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच खेलेगी।आप सब की जानकारी के लिए बता दे कि कोहली अफगानिस्तान के खिलाफ होने वाले एकमात्र टेस्ट मैच मे खेलते हुए नजर नही आएगे।

Advertisement

यह मैच 14 जून से 18 जून तक होगा।हम सब जानते है कि इंग्लैंड दौरा बहुत महत्तवपूर्ण है इसलिए अजिंक्य रहाणे और मुरली विजय को भी बीसीसीआई जल्द ही इंग्लैंड भेज सकती है।

क्रिकेट प्रशासक की समिति के प्रमुख विनोद राय ने पीटीआई को बयान देते हुए कहा था कि अफगानिस्तान को भी हल्के में नहीं लिया जायेगा और उनके खिलाफ 14 जून से बेंगलुरु में एक बहुत प्रतिस्पर्धी टीम उतारी जायेगी जैसी टीम हमने निदहास ट्राई सीरीज में उतारी थी।

रिधिमान साहा अफगानिस्तान के खिलाफ ऐतिहासिक टेस्ट मैच मे खेलते हुए नजर नही आएगे जो 14 जून को चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा। कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दूसरे क्वालीफायर में बल्लेबाजी करते समय इनकी उंगली चोटिल हो गई थी। चोट की वजह से यह रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के खिलाफ खिताबी संघर्ष मे भी खेलते नजर नही आए थे। हालांकि, साहा को इस झटके से पूरी तरह से ठीक होने के लिए पांच से छह सप्ताह की सलाह दी गई है।

Thanks @boriamajumdar for this one #elevengodsandabillionindians

A post shared by Wriddhiman Saha (@wriddhi) on

बीसीसीआई के सूत्रों ने सोमवार को इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि “साहा को और आराम की सलाह दी गई है क्योंकि उनकी मेडिकल रिपोर्ट में कहा गया है कि इनका अँगूठा टूट गया है और वह 5-6 सप्ताह के बाद ही क्रिकेट खेल सकते हैं। कोलकाता में बल्लेबाजी करते समय यह चोट से ग्रस्त हुए थे और यही कारण है कि यह चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ फाइनल नहीं खेल सके। बीसीसीआई जल्द ही अफगानिस्तान टेस्ट के लिए इनकी जगह रिप्लेसमेंट की घोषणा करेगें। “

Advertisement