Dhoni की इस छोटी सी गलती की वजह से जीता हुआ मैच गंवा बैठी चेन्नई

आईपीएल 2018का 52वा मुकाबला दिल्ली डेयर डेविल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच दिल्ली के फिरोज़शाह कोटला मैदान पर खेला गया था।जहा एक ओर चेन्नई सुपर किंग्स प्लेऑफ़ मे पहुँच चुकी थी तो वही दिल्ली डेयर डेविल्स आईपीएल के इस सीज़न से एलिमिनेट हो चुकी थी।यह मैच सिर्फ एक ऑपचारिकता के लिए खेला जा रहा था।

Advertisement

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एम एस धोनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया।इस मैच मे दिल्ली की टीम ने चार विदेशी खिलाड़ियों की बजाय तीन विदेशी खिलाड़ियों को मैदान पर उतारा था।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली डेयरडेविल्स ने सलामी बल्लेबाजो मे हेर फेर किया था।सलामी बल्लेबाज के तौर कप्तान श्रेयस अय्यर खुद आए और साथ मे पृथ्वी शॉ को लाए।पृथ्वी शॉ ने 17 गेंदो पर 17 रन लगाए तो वही श्रेयर अय्यर ने 22 गेंदो का सामना करते हुए महज 19 रन ही बनाए और पैवेलियन लौट गए।

शॉ जल्दी आउट हो गए थे जिसके बाद ऋषभ पंत क्रीज़ पर आए थे।ऋषभ पंत ने थोड़ी आक्रामक पारी खेली और यह भी 26 गेंदो पर 38 रन बनाकर जल्दी पैवेलियन लौट गए।इस मैच मे दिल्ली डेयरडेविल्स ने ग्लेन मैक्सवेल को भी मौका दिया था।परंतु एक बार फिर यह नाकामयाब रहे और सबको निराश किया।

युवा अभिषेक शर्मा से काफी उम्मीद लगाई जा रही थी।परंतु यह महज 2 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए।फिर अंत मे विजय शंकर और हर्षल पटेल ने मोर्चा सँभाला और दिल्ली डेयरडेविल्स को एक सम्मानजनक टोटल तक पहुचाने के लिए संघर्ष किया।

20 वे ओवर मे विजय शंकर और हर्षल पटेल ने मिलकर 26 रन जोड़े जिसकी बदौलत दिल्ली डेयरडेविल्स ने 5 विकेट खोकर कुल मिलाकर 162 रन बनाए।विजय शंकर ने 26 गेंदो पर नाबाद 38 रन बनाएतो वही हर्षल पटेल ने 16 गेंदो पर नाबाद 36 रन बनाए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स की शुरुआत ठीक ठीक हुई।एक बार फिर रायडू ने अर्धशतक जड़कर सबको प्रभावित किया।रायडू के अलावा आज ज्यादा कोई बल्लेबाजी मे दमखम देखने को नही मिला।

The leggies in conversation! ???? #DilDilli #Dhadkega #DDvCSK

A post shared by Delhi Daredevils (@officialdaredevils) on

वॉटसन ने 14, रैना ने 15, धोनी ने 17, बिलिंग्स ने 1, डवेन ब्रावो ने  1, रवींद्र जडेजा ने नाबाद 27 और दीपक चहर ने नाबाद 1 रन का योगदान दिया।लक्ष्य को हासिल करने के लिए यह काफी नही था।इसलिए चेन्नई सुपर किंग्स निर्धारित 20 ओवर मे 6 विकेट के नुकसान पर सिर्फ 128 रन बनाने मे ही सक्षम रही।परिणामस्वरुप दिल्ली डेयरडेविल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 34 रन से मात दी।

मैच खत्म होने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स की स्थिति पर तो कोई असर नही दिखा ।लेकिन अभी भी धोनी गेंदबाजो से परेशान है ।

एम एस धोनी ने ड्वेन ब्रावो से पहले रविन्द्र जडेजा को बल्लेबाजी करने के लिए भेजा और उनकी यह बड़ी गलती चेन्नई सुपर किंग्स की टीम के लिए हार का एक कारण बनी. धोनी ने खुद भी एक 23 गेंदों पर 19 रन की धीमी पारी खेली. जिसके चलते भी चेन्नई की टीम को हार का सामना करना पड़ा.

Advertisement