विराट कोहली एंड कंपनी ने कल सीरीज जीत कर रचा इतिहास, मैच में बने 10, 15 नहीं बल्कि कुल 23 रिकार्ड्स

0
459

भारतीय कप्तान कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया, यह फैसला बहुत ही सही साबित हुआ ।साउथ अफ्रीका टेऐम की शुरुआत काफी खराब हुई ।सलामी बल्लेबाज हाशिम आमला इस बार फिर नाकाम रहे और महज 23 रन के स्कोर पर शार्दुल ठाकुर के आसान शिकार बने।

इनके आउट होने के बाद साउथ अफ्रीका के 43 स्कोर पर कप्तान ऐडन मार्करम भी शार्दुल ठाकुर का शिकार होकर पैवेलियन लौट गए।इसके बाद बल्लेबाजी करने आए ज़ोंडो और एबी डीवीलियर्स के बीच शानदार 62 रन की साझेदारी हुई ।परंतु फिर साउथ अफ्रीकन टीम ने एबी डीवीलियर्स को महज 105 रन के स्कोर पर तीसरे विकेट के रुप मे खो दिया था।

इसके बाद साउथ अफ्रीका की विकटो का पतन होना शुरु हो गया या हम बोल सकते है कि एबी डीवीलियर्स की विकेट के बाद साउथ अफ्रीकन टीम तिनके की तरह बिखर गई ।भारतीय टीम को 204 रन का लक्ष्य मिला।

Advertisement

इसके बाद भारतीय टीम लक्ष्य का पीछा करने उतरी , जिसका पीछा करते हुए भारतीय टीम के स्टार खिलाड़ी रोहित शर्मा ने अपना विकेट 19 रन पर गँवा दिया ।इसके बाद कोहली और शिखर धवन के बीच अच्छी साझेदारी हुई और फिर भारतीय टीम के 80 के स्कोर पर शिखर धवन भी अपनी विकेट गँवा बैठे।

Advertisement

धवन की विकेट के बाद कोहली और रहाणे ने साथ मिलकर 126 रन की साझेदारी की और भारत ने आसानी से 32.1 ओवर मे 8 विकेट हाथ मे रखते हुए लक्ष्य को प्राप्त कर लिया ।इस लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय कप्तान ने अपना 35 वा शतक जड़ा । कोहली को मैच के बाद मैंन ऑफ़ द मैच और मैंन ऑफ द सीरिज के खिताब से सम्मानित किया गया।

सेंचुरियन मे खेले गए भारत और साउथ अफ्रीका के बीच अंतिम एकदिवसीय मुकाबले मे भारत ने आसानी से 8 विकेट से जीत दर्ज कर ली है ।इसके साथ साथ भारत ने यह श्रृंखला जीत कर इतिहास के पन्नो पर एक ऐतिहासिक जीत दर्ज की है ।भारत ने साउथ अफ्रीका को इस श्रृंखला मे 5-1 से मात दी है ।आइए नजर डालते है कि सेंचुरियन मे कितने रिकॉर्ड्स बने:-

1 . एशिया के बाहर तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर का भारतीय टीम की ओर से पहला एकदिवसीय मैच रहा।

2 . विकेटकीपर के रुप में महेंद्र सिंह धोनी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपने 600 कैच पूरे किये। ऐसा करने वाले यह देश के पहले और विश्व के तीसरे विकेटकीपर बन चुके है। इन से पहले मार्क बाउचर (953) और एडम गिलक्रिस्ट (813) कैच के साथ है ।

3 . दक्षिण अफ्रीकन युवा बल्लेबाज खाया जोंड़ो ने इस मैच में 54 रन बनाये जो एकदिवसीय क्रिकेट में इनका पहला अर्द्धशतक रहा।

4 . कोहली ने एकदिवसीय क्रिकेट में अपने 100 कैच पूरे किये। एकदिवसीय में 100 कैच लेने वाले यह देश के 5वें खिलाड़ी बने।

5 . इस द्विपक्षीय सीरीज में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने मिलकर कुल 33 विकेट हासिल किये। किसी एक द्विपक्षीय सीरीज में स्पिन गेंदबाजो द्वारा लिए विकटों में यह जोड़ी चौथे स्थान पर रही।

6 . कुलदीप यादव (17) किसी एक द्विपक्षीय सीरीज में बतौर स्पिनर सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले विश्व के दूसरे स्पिन गेंदबाज बने जबकि युजवेंद्र चहल (16) विकेट के साथ चौथे स्थान पर हैं।

7 . 2004/05 के बाद ऐसा पहली बार देखने को मिला, जबी दक्षिण अफ्रीका की टीम ने किसी द्विपक्षीय सीरीज में 50 से ज्यादा विकेट गवाए हो।इससे पहले 2004/05 में बनाम इंग्लैंड इन्होंने 53 विकेट गँवाए थे|

8 . शार्दुल ठाकुर का (3/37) वनडे क्रिकेट में अब तक का यह सबसे बढ़िया प्रदर्शन रहा।

9 . साउथ अफ्रीका में इन्ही के खिलाफ किसी एक द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा 17 विकेट लेते हुए कुलदीप यादव ने ऑस्ट्रेलिया के क्रेग मैथ्यूस की बराबरी की। क्रेग ने सन 1994 की सीरीज में द. अफ्रीका के खिलाफ 17 विकेट लिए थे। युजवेंद्र चहल 16 का नाम इनके बाद आता हैं।

10 . विराट कोहली टीम इंडिया के लिए सबसे कम मैचों में 100 कैच लेने वाले खिलाड़ी बने. विराट ने यह रिकॉर्ड अपने 208वें मैच में बनायाहै , जबकि इस मामले में कोहली ने सुरेश रैना 223 का रिकॉर्ड तोड़ा।

11 . विराट कोहली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपने 17,000 रन पूरे किये और देश के लिए यह कीर्तिमान रचने वाले यह चौथे और विश्व के 23वें खिलाड़ी बने।

12 . विराट कोहली ने बतौर कप्तान वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा 13 शतक लगाने का कीर्तीमान हासिल किया है ।ऐसा करने वाले यह दूसरे बल्लेबाज बन गए है। इस मामले में कोहली ने एबी डीविलियर्स 13 को पीछे छोड़ा और रिकी पोंटिंग 22  शतक के साथ सबसे आगे है।

13 . साउथ अफ्रीका के खिलाफ विराट कोहली का यह तीसरा शतक रहा। साउथ अफ्रीका के खिलाफ सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में कोहली ने सौरव गांगुली के शतक का रिकॉर्ड तोड़ा।

14 . विदेशी सरजमी पर विराट कोहली का यह 21वां शतक रहा। इस मामले में इन्होंने सनथ जयसूर्या और कुमार संगकारा की बराबरी की। सबसे आगे सचिन तेंदुलकर 29 शतक के साथ सबसे आगे हैं।

15 . देश के बाहर किसी द्विपक्षीय सीरीज में बतौर कप्तान सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में विराट कोहली {3} ने एबी डीविलियर्स {3 बनाम भारत, 2015/16} की बराबरी की.

16 . विराट कोहली किसी एक द्विपक्षीय सीरीज में 500 रन बनाने वाले विश्व के सबसे पहले बल्लेबाज बने।

17 . किसी एक द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में विराट कोहली (558)सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बने। इस मामले में कोहली ने रोहित शर्मा (491 बनाम ऑस्ट्रेलिया 2013) को पीछे छोड़ा।

18 . विराट कोहली (558) साउथ अफ्रीका में इन्ही की सरजमी पर किसी एक द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बने कोहली। इस मामले में कोहली ने केविन पीटरसन (454) 2005 का रिकॉर्ड तोड़ा।

 19 . ऐसा सिर्फ दूसरी बार देखने को मिला, जब साउथ अफ्रीका को अपनी ही सरजमी पर 5-1 से किसी द्विपक्षीय श्रृंखला में हार का सामना करना पड़ा हो।

20 . एशिया के बाहर खेलते हुए यह दूसरा ऐसा मौका रहा जब टीम इंडिया एक द्विपक्षीय सीरीज में 5 मैच जीतने में कामयाब हुई हो। इससे पहले 2013 में भारतीय टीम ने ज़िम्बाब्वे के खिलाफ यह कारनामा किया था।

21 . एक कप्तान के रूप में किसी द्विपक्षीय श्रृंखला में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में विराट कोहली (558) ने ऑस्ट्रेलिया के जॉर्ज बैली (478) का रिकॉर्ड तोड़ा।

22 . यह 28वां ऐसा मौका रहांजब विराट कोहली ने मैन ऑफ़ द मैचका अवार्ड जीता हो और छठी बार मैन ऑफ़ द सीरीजका।

23 . बतौर कप्तान एकदिवसीय सीरीज में सबसे ज्यादा बार ”मैन ऑफ़ द सीरीजका अवार्ड जीतने के मामले में विराट कोहली (3) ने मोहम्मद अजहरूदीन की बराबरी की। सबसे आगे एमएस धोनी 4 मैंन ऑफ द सीरिज के साथ है ।

 

 

 

Advertisement