भारत और श्रीलंका के बीच एकदिवसीय श्रंखला चल रही है , जिसमे भारत मेहमान टीम श्रीलंका से 1-0 से पीछे है । जहा एक ओर धर्मशाला मे पहला एकदिवसीय मैच चल रहा था , तो वही दूसरी ओर भारत के स्टार तेज गेंदबाज जसपरीत बुमराह के दादा संतोष सिंह की लाश गुजरात के साबरमती नदी मे मिलने की खबर आई थी ।

ऐसा बताया जा रहा है कि बुमराह’ के दादा ने खुद नदी मे कुदकर अपनी जान दे डाली, यानि आत्महत्या कर दी । जसप्रीत बुमराह के दादा ने यह जो इतना बड़ा कदम उठाया हाइ , तो जरुर इसके पिछे कोई ना कोई वजह जरुर होगी ।

जैसा हम सोच रहे है ठीक वैसा ही हुआ , बुमराह के दादा की आत्महत्या को लेकर बड़ी खबर आ रही है, साबरमती मे कूदने से पहले इन्होने अपने मित्र रेश्म सिंह को अपने आत्महत्या की सूचना देते हुए इसके पीछे का कारण भी बताया था।

Advertisement

रेशम सिंह ने बताया कि बुमराह के दादा संतोष सिंह ने उन्हे शुक्रवार क़ो फोन किया था, और साथ मे कहा था कि वह नदी मे कूदने जा रहे है , इनकी यह वाणी आँसूओं क़े साथ निकल रही थी । रेशम सिंह ने बताया कि उन्होने बुमराह के दादा को बहुत समझाने कि कोशीश की , परंतु बुमराह के दादा ने एक ना सुनी और फोन काट दिया । सिर्फ इतना ही नही रेशम सिंह साए बात करने के बाद बुमराह के दादा ने फोन को स्विच ऑफ भी कर दिया था।

Advertisement

रेशम सिंह ने बुमराह के दादा की यह जानकारी संतोष सिंह के पुत्र जसविंदर को दे दी थी। गरीबी मे अपने दिन काट रहे बुमराह के दादा एक आखिरी बार अपने पौते से मिलना चाहते थे , जिसके लिए वह अपने परिजनो से किसी तरह चार हजार पर इकट्ठे करके अहमदाबाद पहुँचे थे । इनकी पुत्री राजिंदर कौर ने बताया कि ना ही बुमराह ने और ना ही बुमराह के परिवार ने किसी प्रकार की अटेंशन दी।

 

सिर्फ इतना ही नही जब संतोष सिंह की पुत्री राजिंदर कौर ने बताया कि जब वह अपने पिता के साथ बुमराह की माँ दलजीत कौर से मिलने एक सिटि स्कूल पहुँची तो दलजीत कौर ने मिलने से मना कर दिया और जसप्रीत बुमराह का भी नंबर देने से इंकार कर दिया । इसी घटना के बाद संतोष सिंह ने इतना बड़ा कदम उठाया।

Advertisement