रिपोर्टर ने पूछा ‘आपको आराम की जरुरत है?’ विराट कोहली ने दिया परफेक्ट जवाब

0
708

भारत और श्रीलंका के बीच पहले टेस्ट की पूर्व संध्या पर, रिपोर्टर ने विराट कोहली से पूछा कि क्या उन्हें आने वाली श्रृंखला में आपको आराम चाहिए जिसपर भारतीय कप्तान ने शानदार अंदाज़ में जवाब दिया.

विश्व के सबसे फ़िट खिलाड़ी विराट कोहली ने रिपोर्टर के प्रशन का जवाब देते कहा कि उन्हें भी आराम की ज़रूरत है और जब उन्हें लगता है, कि उनके शरीर को आराम की जरुरत है, तब वह आराम लेगे. कोहली ने यह भी कहा, कि वह रोबोट नहीं है और वह भी किसी अन्य इंसान की तरह ही हैं.

Virat Kohli interacts with the media in Kolkata ahead of the first cricket Test between India and Sri Lanka.कोलकाता टेस्ट से पहले विराट कोहली ने रिपोर्टर से कहा, “मुझे भी आराम की जरूरत होती है. क्यों मुझे आराम की जरूरत नहीं होगी? जब मुझे लगता है, कि मेरे शरीर को आराम चाहिए, मैं इसके लिए कहता हूं. मैं रोबोट नहीं हूं. आप मेरी ख़ाल को काट कर देख सकते हैं, इससे खून आएगा.”

कोहली ने यह भी कहा कि केवल खिलाड़ी और टीम मैनेजमेंट तय कर सकते हैं, कि खिलाड़ी को आराम करना चाहिए या नहीं, और बाहरी लोग काम का बोझ नहीं समझ सकते.

Advertisement

कोहली ने कहा, “यह एक विषय है, मुझे नहीं लगता है, कि लोग इसे सही प्रकार तरह से समझा पाते हैं. थकान के बारे में बाहर से काफी चर्चा होती हैं, कि खिलाडियों को आराम दिया जाना चाहिए या नहीं. जैसे कि टीम के सभी खिलाड़ी एक वर्ष में 40 मैच खेलते हैं. इस दौरान 3 फॉर्मेट में खेलने वाले  खिलाडियों जिन्हें आराम दिया जाना चाहिए, उनके कार्यभार को शेयर किया जाना चाहिए. प्लेयिंग XI में प्रत्येक खिलाड़ी 45 ओवर तक बल्लेबाजी नहीं करता या प्रत्येक गेंदबाज़ टेस्ट में 30 ओवर तक गेंदबाजी करता. लेकिन यदि कोई खिलाड़ी लगातार ऐसा कर रहे हैं, उन पर ध्यान दिया जाना चाहिए.”

Advertisement

Image result for विराट कोहली runing with kohli कोहली ने आगे कहा, “विकेट के बीच दौड़ने वाले रनों की संख्या, मुश्किल परिस्थितियों में डाले हुए ओवरों की संख्या, स्थिति क्या थी, तापमान किस तरह का था, शरीर इससे रिकवर हुआ है या है. मुझे नहीं लगता है, कि लोग इसका विश्लेषण करते हैं. इसलिए बाहर से, ऐसा लगता है, कि लोग आराम के लिए क्यों पूछ रहे हैं, हर कोई खेल के समान नंबर खेले हैं.”

Image result for pujara in testविराट कोहली ने चेतेश्वर पुजारा का उदहारण देते हुए कहा, “पुजारा पर सबसे ज्यादा वर्कलोड है, क्योंकि वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा समय क्रीज पर बिताता है, और उसका खेल हमेशा इसी तरह से होता है. आप इस चीज़ की तुलना किसी अन्य बल्लेबाज से नहीं कर सकते, क्योंकि उसका वर्कलोड काफी कम होगा. हमेशा इन सभी चीजों को ध्यान में रखना चाहिए, क्योंकि हमने 20-25 खिलाड़ियों की एक मजबूत कोर टीम तैयार की हुई है. को नहीं  चाहत़ा, कि उनके महत्वपूर्ण खिलाड़ी मुश्किल मौके पर असफ़ल हो जाएं, यहीं संतुलन आगे बरकरार रखने की जरूरत है.”

Advertisement