भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही 5 मैचो की वनडे सीरीज के शुरूआती 2 मैचो में कुलदीप यादव और युज्वेंद्र चहल ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 10 विकेट हासिल किये हैं.

भारतीय चयनसमिति ने ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध खेली जा रही अहम वनडे सीरीज के लिए कड़ी निर्णय लेते हुए जडेजा-अश्विन की जगह चहल और कुलदीप को टीम में शामिल किया हैं. अश्विन-जडेजा के दिग्गज जोड़ी पिछले कुछ वर्षो से क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में भारत के लिए लगातार अच्छा प्रदर्शन करती है, खासतौर पर टेस्ट क्रिकेट में. लेकिन जिस तरह से कुलदीप और चहल गेंदबाज़ी कर रहे है, उसे देखकर ऐसा लग रहा है, कि सिमित ओवर क्रिकेट में जडेजा-अश्विन को टीम में जगह बनाने में मुश्किल हो सकती हैं.

Image result for KULDEEP AND CHAHAL CRICKETER

Advertisement

कुलदीप और चहल भारत के दो होनहार और प्रतिभाशाली क्रिकेटर हैं. ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध धोनी स्पिनरों ने बेहद शानदार गेंदबाज़ी की है, जिस दौरान कुलदीप ने कोलकाता में ऐतिहासिक हैट्रिक भी ली थी.

Advertisement

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज़ और सबसे एंटरटेनिंग कमेंटेटर वीरेंद्र सहवाग ने भारतीय टीम की युवा स्पिन जोड़ी पर एक बड़ा बयान दिया हैं. वीरू का कहना है, कि सिमित ओवर क्रिकेट में चहल और कुलदीप की शानदार प्रदर्शन के बाद प्रसंशक अश्विन-जडेजा को भूलने लगे हैं.

Virender-Sehwag’s-new-innings-as-a-commentator-is-going-to-have-lot-of-fun

इंडिया टीवी को दिए एक इंटरव्यू में सहवाग ने कहा, “यह अच्छी बात है, कि टीम के नए गेंदबाज़ो के शानदार प्रदर्शन के कारण हमे टीम के अनुभवी गेंदबाज़ो की कमी महसूस नहीं हो रही हैं.”

कुलदीप यादव के बारे में सहवाग का कहना है, कि कुलदीप बेहद अच्छी गेंदबाज़ी कर रहे है, लेकिन उन्हें प्लान के अनुसार गेंदबाज़ी करने की जरुरत हैं.

सहवाग ने कहा, “कुलदीप को फ़ील्ड प्लेसिंग के अनुसार गेंदबाज़ी करनी चाहिए, क्यूंकि दुसरे वनडे में उन्होंने अपने स्पेल में काफी रन लुटाये थे.”

चहल के बारे में सहवाग ने कहा, चहल ने आईपीएल में बैंगलोर जैसी पिच पर गेंदबाज़ी की है, जिसका अनुभव उनके काम आ रहा हैं.
“चहल को बैंगलोर जैसे विकेट पर गेंदबाजी करने का फायदा मिल रहा है. चहल आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से खेलते हैं, जिस टीम के कप्तान विराट कोहली हैं.”

“इसलिए जब को कोई कठिन परिस्तिथि आती है, तो कोहली चहल को गेंदबाज़ी करने को कहते हैं.”

भारतीय टीम की बल्लेबाज़ी क्रम पर बात करते हुए सहवाग ने कहा, टीम का मध्यक्रम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहा हैं, और आगामी मैचो में इसमें सुधार की जरुरत हैं. सहवाग ने विशेष रूप से मनीष पांडे और केदार जाधव के नाम का उल्लेख किया.

सहवाग ने कहा, “शुरूआती 2 वनडे मैचो में मध्यक्रम ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है और विराट कोहली को बल्लेबाज़ी क्रम में बदलाव की जरुरत हैं. मनीष पांडे और केदार जाधव को मौका मिला है, जिसका उन्हें फायदा उठाना चाहिए हालाँकि अभी तक दोनों फ्लॉप रहे हैं.”

सहवाग ने मौजूदा भारतीय टीम की तुलना स्टीव वॉ और रिकी पोंटिंग की ऑस्ट्रेलिया टीम से की हैं.

सहवाग ने अंत में कहा, “वर्तमान में भारतीय टीम स्टीव वॉ और रिकी पोंटिंग की ऑस्ट्रेलिया टीम की तरह मजबूत लग रही हैं. मौजूदा ऑस्ट्रेलिया टीम काफी कमजोर दिखाई दे रही हैं. मुझे भरोसा है, कि भारतीय टीम सीरीज 5-0 से जीतेगी.”   

Advertisement